Hindi ShayariSad Shayari

61+ Sad Shayari😭 Life Boy | Sad Shayari💔💔

1 min read

ख़ामोशियों में भी दर्द की गहराइयाँ समझ लेते हैं, जिन्दगी के हर मोड़ पर, हमारी मुस्कान झूठी लगती है।

 

रास्ते अब भी वही हैं, मगर मंज़िलें नहीं रहीं, हर रोज़ एक नयी तन्हाई का सामना होता है।

 

ताक़त वही है जो रोके, मंजिल तक पहुँचने से, जिंदगी की हर चुभन सहने की बात नहीं होती।

 

जिंदगी की राहों में, हमेशा थोड़ी तकलीफ़ ही मिलती है, ना चाहते हुए भी, हर दर्द सहना पड़ता है।

 

अब तक समझते थे कि दर्द सिर्फ जीने वालों को होता है, अब पता चला, जिन्दगी जीने के लिए ही दर्द कितना ज़रूरी है।

 

हर चीरा जिंदगी ने दिया है, वही चुराने का हौसला भी देती है, अब तक जितना खोया है, उसका हिसाब नहीं होता।

 

जिंदगी के कुछ अपने पन खो बैठे हैं, किसी के जाने से कोई खाली नहीं होता।

 

दर्द की तस्वीरें हैं दिल में बसी, मुस्कान के पीछे छुपी हुई तकदीर है ये।

 

कुछ बातें जिंदगी सिखा देती हैं, जब तक़लीफ़ है, तब तक़ हम जिंदा हैं।

 

दिल की बातें हो जब तक परदे में, कोई बात जिंदगी में ख़ुदा से ज्यादा नहीं।

 

दर्द की राहों में हमने खुद को खो दिया, अब तक जिंदगी ने हमें कुछ सिखाया नहीं।

 

जिंदगी के सफ़र में एक ही सच है, हर मुसाफ़िर को मौत का साथ है।

 

दिल की बातें बयां करने की आदत नहीं है हमें, शायद इसीलिए हम अकेले रहते हैं।

 

जिंदगी ने सिखाया है कि किसी के चले जाने से दर्द नहीं कम होता, बस साथ नहीं होता।

 

हर कोने में छुपी है एक कहानी, जिंदगी की हर बात कुछ न कुछ नया सिखाती है।

 

खुशियों की तलाश में जी रहे हैं हम, ज़िंदगी की राहों में खो रहे हैं हम।

 

गुजर रही है जिंदगी खामोशी से, दिल में छुपी है बहुत सी कहानियाँ।

 

जिंदगी की राहों में उसका साथ नहीं, खुद को खोकर भी खुश होने का वादा किया था।

 

दर्द की राहों में खो गया हूँ मैं, खुद को तलाशते-तलाशते खो गया हूँ मैं।

 

जिंदगी ने किया है दर्द इतना, अब तो खुशियाँ भी लगती हैं सजना।

 

तन्हाई में बिताई हर रात, अब तो खुद को भी हमसे खुदा कहना है।

 

हर बार किया है गिरकर संभलना, अब तो जिंदगी से हार कर मुस्कुराना है।

 

खुशियों की तलाश में भटक रहे हैं हम, जिंदगी की मजबूरियों से लड़ रहे हैं हम।

 

हर बार टूटकर बिखर जाते हैं हम, फिर भी जिंदगी में आगे बढ़ने का इरादा नहीं हारा है।

 

जिंदगी की राहों में मिला क्या, खुद को खोते-खोते हम क्या पा लेंगे।

 

दर्द भरी रातें बीती हैं, खुशियों की तलाश में।

 

दिल को छू जाती है जिंदगी की हर बात, क्या करें, ये है जिंदगी की बर्बादी की रात।

 

खुशियों की तलाश में खो गए हम, अब तक़दीर से इतनी मोहब्बत कर गए हम।

 

जिंदगी की राहों में हमने खोजा, खुद को खो देने का मतलब क्या है।

 

तन्हाई में रातें बीती हैं, दर्द और ग़म की बातें सुनी हैं।

 

दिल टूटा है, जीवन की राहें मुश्किल हैं, हमें मिले न सुकून, न ही कोई हमसफ़र है।

 

जिंदगी ने सिखाया है दर्द सहना, खुद को खो कर भी मुस्कराना।

 

दर्द भरी रातें बीती हैं, जिंदगी की मोहब्बत में हमने क्या पाया है।

 

जिंदगी की राहों में चलते चलते, खुद को खोते चले गए हैं हम।

 

दर्द भरी रातें बीती हैं, खुशियों की तलाश में हमने क्या पाया है।

 

दिल को छू जाती है जिंदगी की तक़दीर, खुद को खो कर भी हम हर रोज़ जीते हैं।

 

दर्द भरी रातें बीती हैं, जिंदगी की राहों में हमने क्या पाया है।

 

जिंदगी की राहों में हमने खोजा, खुद को खोते चले गए हैं हम।

 

दर्द भरी रातें बीती हैं, खुशियों की तलाश में हमने क्या पाया है।

 

जिंदगी ने सिखाया है दर्द सहना, खुद को खो कर भी मुस्कराना।

 

दर्द भरी रातें बीती हैं, जिंदगी की मोहब्बत में हमने क्या पाया है।

 

जिंदगी की राहों में चलते चलते, खुद को खोते चले गए हैं हम।

 

दर्द भरी रातें बीती हैं, खुशियों की तलाश में हमने क्या पाया है।

 

जिंदगी की राहों में हमने खोजा, खुद को खोते चले गए हैं हम।

 

दर्द भरी रातें बीती हैं, जिंदगी की मोहब्बत में हमने क्या पाया है।

 

जिंदगी ने सिखाया है दर्द सहना, खुद को खो कर भी मुस्कराना।

 

दर्द भरी रातें बीती हैं, जिंदगी की मोहब्बत में हमने क्या पाया है।

 

जिंदगी की राहों में चलते चलते, खुद को खोते चले गए हैं हम।

 

दर्द भरी रातें बीती हैं, खुशियों की तलाश में हमने क्या पाया है।

 

जिंदगी ने सिखाया है दर्द सहना, खुद को खो कर भी मुस्कराना।

 

दर्द भरी रातें बीती हैं, जिंदगी की मोहब्बत में हमने क्या पाया है।

 

जिंदगी की राहों में चलते चलते, खुद को खोते चले गए हैं हम।

 

दर्द भरी रातें बीती हैं, खुशियों की तलाश में हमने क्या पाया है।

 

जिंदगी की राहों में खोजा, खुद को खोते चले गए हैं हम।

 

दर्द भरी रातें बीती हैं, जिंदगी की मोहब्बत में हमने क्या पाया है।

 

दर्द भरी रातें बीती हैं, खुशियों की तलाश में हमने क्या पाया है।

 

जिंदगी की राहों में खोजा, खुद को खोते चले गए हैं हम।

 

दर्द भरी रातें बीती हैं, जिंदगी की मोहब्बत में हमने क्या पाया है।

 

जिंदगी ने सिखाया है दर्द सहना, खुद को खो कर भी मुस्कराना।

 

दर्द भरी रातें बीती हैं, जिंदगी की मोहब्बत में हमने क्या पाया है।

 

जिंदगी की राहों में चलते चलते, खुद को खोते चले गए हैं हम।

 

दर्द भरी रातें बीती हैं, खुशियों की तलाश में हमने क्या पाया है।

 

जिंदगी की राहों में खोजा, खुद को खोते चले गए हैं हम।

 

दर्द भरी रातें बीती हैं, जिंदगी की मोहब्बत में हमने क्या पाया है।

 

जिंदगी ने सिखाया है दर्द सहना, खुद को खो कर भी मुस्कराना।

ALSO READ  New Best Love Shayari | नई बेस्ट लव शायरी
rahulsarkar

Leave a Comment